Pro Kabaddi 9: Dabang Delhi retains the 'New Express'


गत चैंपियन ने पिछले सीजन के दो खिलाड़ियों को रिटेन किया है।

प्रो कबड्डी के 9वें सीजन की नीलामी से पहले सभी की निगाहें दबंग दिल्ली में गत चैंपियन पर थी कि वह किन खिलाड़ियों को रिटेन करता है। अब दबंग दिल्ली ने अपने रिटेन किए गए खिलाड़ियों की घोषणा कर दी है। पिछले दो सीजन से जबरदस्त प्रदर्शन कर रही 'नवीन एक्सप्रेस' को टीम ने बरकरार रखा है। इसके अलावा पीकेएल-8 में प्रभावित करने वाले विजय मलिक को भी दबंग दिल्ली ने रिटेन किया है। अन्य सभी खिलाड़ियों को रिलीज कर दिया गया है। जोगिंदर नरवाल, जीवा कुमार, संदीप नरवाल और अजय ठाकुर जैसे अनुभवी खिलाड़ियों को रिटेन नहीं किया गया है।

दबंग दिल्ली ने ट्वीट कर नवीन कुमार को बरकरार रखने की जानकारी दी। पहले आशंका थी कि दिल्ली की टीम नवीन को रिटेन नहीं करेगी, लेकिन उन्होंने सभी अफवाहों पर विराम लगा दिया. इसके अलावा दबंग दिल्ली ने विजय को एलीट लिस्ट से भी बरकरार रखा है, जिन्होंने सीजन 8 में टीम को चैंपियन बनाने में अहम भूमिका निभाई थी.

नवीन कुमार ने पिछले सीजन में 210 अंक बनाए थे

दबंग दिल्ली को प्रो कबड्डी का खिताब दिलाने में नवीन कुमार ने अहम भूमिका निभाई। पीकेएल के 8वें सीजन में नवीन कुमार ने 17 मैचों में 12 सुपर-10 मैच जीते। इसके अलावा उसे कुल 210 अंक मिले हैं। उन्होंने इस दौरान कई बड़े रिकॉर्ड भी बनाए। अगर वह बीच में घायल हो गया था। अगर वह वहां नहीं होता तो उसे 300 से ज्यादा अंक मिल जाते। यही वजह है कि दबंग दिल्ली ने एक बार फिर नवीन कुमार को रिटेन किया है।

विजय मलिक ने नॉकआउट मुकाबलों में शानदार प्रदर्शन किया

अगर बात करें विजय मलिक की तो जब नवीन कुमार चोटिल हुए थे तो उनकी गैरमौजूदगी में विजय ने उनके कंधों पर रेड करने की जिम्मेदारी ली थी. विजय ने पिछले पीकेएल सीज़न में 23 मैचों में 162 अंक बनाए और नवीन का बहुत अच्छा समर्थन किया। उन्होंने नॉकआउट मैचों में जिस तरह से खेला, उससे उनकी क्षमता का पता चलता है।

दबंग दिल्ली ने पीकेएल के 8वें सीजन का खिताब अपने नाम किया था

दबंग दिल्ली लगातार कई सीजन से टाइटल जीतने का इंतजार कर रही थी और उनका ये इंतजार 8वें सीजन में जाकर खत्म हुआ। उन्होंने फाइनल में पटना पाइरेट्स जैसी मजबूत टीम को शिकस्त देते हुए इतिहास रचा था। इससे पहले वो सीजन 7 के भी फाइनल में पहुंचे थे, लेकिन वहां उन्हें बंगाल वॉरियर्स के खिलाफ हार का सामना करना पड़ा था।